Thursday, September 21, 2023
Himachal*अयोध्या में अपने जत्थे के साथ चाय के देसी ठेके के बाहर...

*अयोध्या में अपने जत्थे के साथ चाय के देसी ठेके के बाहर खड़े पूर्व विधायक प्रवीन कुमार*

Must read

 

1 Tct
Tct chief editor

अयोध्या में अपने जत्थे के साथ चाय के देसी ठेके के बाहर खड़े पूर्व विधायक प्रवीन कुमार

गुड गवर्नरस क्या होती है अन्य प्रदेशों के मुख्यमन्त्री श्री योगी आदित्य नाथ जी से सिखें :- प्रवीन कुमार पूर्व विधायक …… मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम जी की जन्म स्थली अयोध्या में विश्व के 155 देशों की पवित्र एवं पावन नदियों के जलाभिषेक कार्यक्रम से वापिस लोटे पालमपुर के पूर्व विधायक प्रवीन कुमार ने कहा कि गुड गवर्नरस क्या होती है अन्य प्रदेशों के मुख्यमन्त्री उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री श्री योगी आदित्य नाथ जी से सिखें । पूर्व विधायक ने अपने जत्थे के साथ सफर करते वक्त जव टैक्सी रिक्शा ,ऑटो चालक से उतर प्रदेश में क़ानून एवं व्यवस्था के बारे में पूछा तो सभी ने सटीक सा जवाब दिया कि अव हम सभी बुल्डोजर बाबा जी की कृपा से सुरक्षित है अव रात के अंधेरे में भी हमें अपने पेशे में काम करने से डर नहीं लगता । इससे पहले गुंडा , गर्दी , वदमाशी , चोरी , डकैती अपहरण जैसी वारदातों का आलम यह था कि शाम ढलते ही सड़कों पर चलना फिरना दुभर हो जाता था । पूर्व विधायक ने कहा इस तरह अयोध्या की परिक्रमा करते वक्त योगी जी की राजनीतिक दृढ़ इचछा शक्ति के चलते चारों तरफ अवैध कब्जा धारियों का बुल्डोजर बाबा ने सफाया करके रख दिया है। इस तरह राम भगतों की सुविधा को सर्वोपरि देखते हुए अयोध्या की हद को रेखांकित कर दिया गया है। अव यहाँ युद्ध स्तर पर काम चला हुआ है । यहां योगी सरकार का सबसे खूबसूरत निर्णय देखने को यह लगा कि यहाँ शराब के ठेकों की जगह शानदार देसी चाय के ठेके देखे जा सकते जहां पैग की जगह पन्द्रह रुपये में कोई भी अपने टेस्ट के अनुसार अदरक , पान ,रबडी ,केसर , इलायची , चाकलेट , गुड , हरी मिर्च , काली मिर्च वाली कुल्लड चाय पसे सकता है। कार्यक्रम में योगी सरकार के मंत्रियों से विशेष मुलाक़ात में उन्होंने बताया कि कोई भी असम्भव कार्य दृढ राजनैतिक इच्छा शक्ति के बिना सम्भव नहीं है। ऐसे में मुख्यमन्त्री श्री योगी जी के कुशल नेतृत्व में एक के वाद एक कठोर निर्णय लेने की क्षमता के चलते अव शीध्र ही जनसंख्या नियन्त्रण का ड्राप्ट तैयार कर दिया गया है । ऎसे में अव दो बच्चों से ज्यादा वाला कोई भी नेता चुनाव नहीं लड पाएगा । इसी तरह शिक्षा के व्यवसायी करण के चलते प्राइवेट स्कूलों की तानाशाही एवं दादीगिरि पर त्रिसूत्रीय शिकंजा कस दिया गया है। अव कोई भी निजी स्कूल पांच साल में एक ही बार एडमिशन फीस लेगा । अभिभावक जहां मर्जी से बच्चों को किताबें , कापियां , वर्दी खरीद सकते हैं । इस तरह अगर स्कूल मैनेजमेंट द्वारा इस त्रि सूत्रीय फार्मूले के विरुद्ध किसी अभिभावक को बाध्य किया गया तो पहली शिकायत मिलने पर एक लाख दूसरी शिकायत पर दो लाख जुर्माना व तीसरी शिकायत पर स्कूल की मान्यता रद्द कर दी जाएगी । इस तरह पूरे क्षेत्र में बुल्डोजर बाबा जी के नाम से विख्यात मुख्यमन्त्री योगी आदित्य नाथ जी की गुड गवर्नरस की प्रत्यक्षदर्शी के रूप में चर्चाएँ देखने व सुनने को मिली ।

Author

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article