Uncategorized

*साहित्यकार इंजीनियर सुदर्शन भाटिया ने बनाया एक और रिकॉर्ड 11 दिन में लिख डाली 300 पृष्ठों की चंद्रयान -3 पर पुस्तक*

1 Tct

*साहित्यकार इंजीनियर सुदर्शन भाटिया ने बनाया एक और रिकॉर्ड 11 दिन में लिख डाली 300 पृष्ठों की चंद्रयान -3 पर पुस्तक*

Tct chief editor

716 पुस्तकों को लिख कर साहित्यकार तथा पूर्व अधिशाषी अभियन्ता सुदर्शन भाटिया ने पहले ही एक रिकॉर्ड काम किया हुआ है परंतु अभी हाल ही में उन्होंने 11 दिन मे चन्द्रयान -3 पर 300 पृष्ठों की एक हस़्त लिखित प्रतिलिपि तैयार कर एक और रिकॉर्ड बनाया है।
इस पुस्तक के 57 चेप्टर हैं तथा 6 खण्डों में विभक्त कर चन्द्रयान से सम्बंधित जानकारियों से संजोया है। इस से पूर्व किए गए दो प्रयास चन्द्रयान 1 तथा चद्रमान 2 को भी ध्यान में रख कर, इसरो की इस उपलब्धि का बयान किया है। प्रधान मंत्री के विदेश से ही इसरो के अध्यक्ष एस सोमनाथ व उनकी की पूरी टीम को बधाई दी शुभकानायें दी। प्रधानमंत्री ने विदेश से 26 अगस्त को सीधे बंगलूरु पहुंच कर सभी वैज्ञानिकों तथा पूर स्टाफ से मिल कर उनके कार्यों, उनके परिश्रम तथा टैक्नीकल ज्ञान पर बधाई दी। नारी वर्ग की वैज्ञानिकों की भी खूब सराहना की है।उन्होंने कहा कि इसरो की डिमांड एकाएक बढ़ गई है। इसरो को पीछे मुड़कर नहीं देखना है बल्कि सूर्य, शुक्र, मंगल आदि के निर्धारित प्रोग्रामों का सफलता पूर्वक अंजाम देना है। उनके द्वारा दिए उत्साह तथा शाबाशी से पूरे इसरो का खूब उत्साह बढ़ा है।

इससे पहले भी लेखक सुदर्शन भटिया ने प्रणव मुखर्जी, रामनाथ कोविंद, अटल बिहारी वाजपेयी आदि शख्शियतों पर बड़ी बड़ी पुस्तके मात्र 7 से 12 दिन में लिखकर एक रिकॉर्ड बनाया है।

Related Articles

6 Comments

  1. ” फिक्र मंजिल की नहीं रास्तों की करनी है,
    उड़ान पंखों से नहीं होंसलों से भरनी है ”
    जी हां ! भाटिया जी का हौंसला ( कौशल ) है उच्च कोटि का लेखन और इस रास्ते से भाटिया जी को हमने मंजिल हासिल करते ही नहीं देखा बल्कि मंजिल को इनके पास आते देखा है,
    मैं कलम के चमत्कार को ही नमस्कार करूं , नहीं ये बेमानी होगी कोटि कोटि वंदन के साथ मैं इस चमत्कारी व्यक्तित्व के धनी , एक इंजिनियर , एक प्रथम पंक्ति के दानी और उच्चकोटि के लेखक आदरणीय पूजनीय श्री सुदर्शन भाटिया जी की 717 वीं पुस्तक की बधाई किन शब्दों में दूं कुछ समझ नहीं आ रहा है और ये एक ऐसी पुस्तक , ऐसे विषय पर पुस्तक जिसने हमारे भारतवर्ष को दुनिया का सरताज बना दिया , चंद्रयान तीन और इसके विषय में पूरी जानकारी इकट्ठी कर के लिखना और वो भी मात्र ग्यारह दिनों में और तीन सौ पृष्ठ , तो ये कितनी मेहनत और लगन से लेखन करते हैं जिसकी बिल्कुल एक साफ तस्वीर हमें लेखन के आईने में नजर आ रही है , भाटिया जी की इस पुस्तक का जिस दिन अनावरण होगा तो ये दिन भी एक विशेष ही होगा और इसकी चर्चा भी लेखन के सर्वोपरी अध्याय में होगी , मैं समझता हूं जब जब भी कहीं भी चंद्रयान तीन का जिक्र होगा इस पुस्तक का प्रत्येक प्रबुद्ध पाठक उसी के साथ ही इस पुस्तक और भाटिया जी के नाम का जिक्र भी जरूर करेगा , मेरी प्रभु जी से प्रार्थना रहेगी कि भाटिया जी स्वस्थ रहें दीर्घायू हों और हमें इनकी लेखनी और अनंत सेवाओं का आशीर्वाद इनसे मिलता रहे , जय शनि देव
    Dr lekh raj maranda


  2. Hello Admin! Nice Home – Tricitytimes ! Please Read!

    [url=https://xn--mg-8ma3631a.com]мега официальный сайт[/url]
    Переходи на Mega! Здесь https://xn--megsb-vcc.com на самом отличном и авторитетном сайте подпольного интернета тебя ожидает желанный и свежий товар, любезно предоставленный продавцами. Позволь себе забыть про трудности и неудачи вчерашнего дня, а также отвлекись и исправь ненадлежащее настроение. Присоединяйся к новойновейшей перспективной площадке! Позиции находяться в шаговой доступности практически в любом населенном пункте нашей страны, не упускай возможность шанс побавловать себя, поднять настроение себе и своим друзьям!

    26jjvi1bra99sq

    https://xn--mgasb-n51b.com: мега сб
    https://xn--mgasb-n51b.com: мега ссылка на тор
    https://xn--mgasb-n51b.com: мега купить
    https://xn--mg-8ma3631a.com: мега тор

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button